अदालत से भगोड़ा घोषित हुए आरोपी को फरीदाबाद पुलिस ने आगरा से किया गिरफ्तार,

0
1

फरीदाबाद के शस्त्र अधिनियम के एक अन्य मामले में भी आरोपी चल रहा था बेल जंपर,

आरोपी के खिलाफ पहले करीब चार मामले शस्त्र अधिनियम, हत्या का प्रयास करने व लड़ाई झगड़ा करने के हैं दर्ज,

फरीदाबाद- फरीदाबाद एनआईटी पुलिस उपायुक्त अमित यशवर्धन द्वारा अपराधों पर नियंत्रण करने, अपराधियों की धर पकड़ करने व अदालत से भगोड़े घोषित किए गए आरोपियों व बेल जंपरों को गिरफ्तार करने के दिए गए निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए थाना प्रबंधक मुजेसर निरीक्षक सुरेंद्र कुमार की टीम ने वर्ष 2019 के चोरी के एक मामले में माननीय अदालत द्वारा भगोड़ा घोषित किए गए आरोपी आकाश शर्मा उर्फ राज पंडित वासी कलवारी जिला आगरा उत्तर प्रदेश को आगरा से गिरफ्तार किया गया है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि थाना मुजेसर की टीम द्वारा उपरोक्त आरोपी को प्राप्त विश्वसनीय सूचना के आधार पर 28 जनवरी 2024 को आगरा से गिरफ्तार करके लाया गया। आरोपी से पूछताछ व अन्य विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी ने वर्ष 2019 में थाना मुजेसर के एरिया से जेसीबी की बैटरी चोरी करने की वारदात को अंजाम दिया था। उस समय आरोपी फरीदाबाद में ऑटो रिक्शा चलाने का काम करता था और नशा भी करता था। आरोपी फरीदाबाद में अपना पता बदल कर रह रहा था। नशे की लत के कारण ही रुपयों का इंतजाम करने के लिए आरोपी ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। चोरी के इस मामले में पुलिस टीम द्वारा आरोपी को 23 फरवरी 2020 को गिरफ्तार किया था। इस मामले में जमानत मिलने के बाद आरोपी अपने गांव आगरा में भाग गया था और बाद में कभी भी कोर्ट में तारीख पर नहीं आया था। जिसको माननीय कोर्ट द्वारा 29 अगस्त 2023 को भगोड़ा घोषित कर दिया गया था। इस संबंध में आरोपी के खिलाफ थाना मुजेसर में भगोड़ा घोषित होने का एक मामला अलग से दर्ज किया गया था।

जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी को वर्ष 2022 में थाना एसजीएम नगर की टीम द्वारा अवैध हथियार सहित गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में भी जमानत मिलने के बाद आरोपी वापस नहीं आया और बेल जंपर हो गया। इन मामलों के अलावा भी आरोपीय खिलाफ उत्तर प्रदेश के आगरा में करीब तीन मामले हत्या का प्रयास करने, शस्त्र अधिनियम व लड़ाई झगड़े की धाराओं का तहत दर्ज हैं। इन मामलों में भी आरोपी गिरफ्तार हो चुका था और फिलहाल जमानत पर बाहर चल रहा था। आरोपी को कल 29 जनवरी 2024 को माननीय अदालत के समक्ष पेश करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here