जन वितरण प्रणाली!द्वारा धमकी – “ज्यादा दिमाग लगाओगे तो तुम लोगों को बर्बाद कर दिया जाएगा

0
120
Front News Today

Front News Today/आनंद कुशवाहा: जन वितरण प्रणाली! सरकार की एक ऐसी योजना जिससे करोड़ों घरों के चूल्हे जल रहे हैं। देश में कितने लोगों को इसी से मिलने वाले राशन का सहारा है और इसी से मिलने वाले अनाज से वह अपने पेट के आग को ठंडा करते हैं। वर्तमान परिप्रेक्ष्य में जब हमारे देश में अमूमन 6 महीनों से लॉक डाउन चल रहा है, काम धंधा सब चौपट हो गया है, लोगों की आम जिंदगी अस्त व्यस्त हो गई है तो सरकार की यह योजना लाइफ लाइन की तरह काम कर रही है लेकिन आम आदमी के लिए जीवनदायिनी यह योजना उस परिस्थिति में विफल हो जाती है जब इस को संचालित करने वाले ही इसमें अपना स्वार्थ ढूंढने लगते हैं। हम खबर पर आते हैं।
ग्राम बड़की निखती कला, पोस्ट-बड़की निखती कला, ग्राम पंचायत-बड़की निखती कला, थाना -रघुनाथपुर, जिला सिवान के निवासियों ने श्रीमान जिलाधिकारी महोदय, सिवान को जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत राशन किरासन के वितरण में सरकारी दुकानदार द्वारा किए जा रहे घोर अनियमितता एवं धांधली के विषय में शिकायत पत्र दिया है।
आवेदन में ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि उनके पंचायत में राशन किरासन के डीलर श्री योगेंद्र राम पुत्र स्वर्गीय संदीप राम द्वारा जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत राशन के वितरण में व्यापक धांधली की जा रही है।
ग्रामीणों ने अपने आवेदन में कहा है कि पूर्व में छोटी निखती कला, दमनपुरा, बड़की निखती कला एवं मिलान चौक गांवों को मिलाकर पूरे ग्राम पंचायत में 4 कोटो की दुकानों का जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत राशन किरासन की दुकानों का संचालन किया जाता था। इन कोटेदारों में उक्त वर्णित कोटदार योगेंद्र राम, मनन सिंह, बलदेव सिंह एवं स्वर्गीय दीनानाथ भगत थे।
तदन्तर में परिस्थितिवश सारे कोटे की दुकान योगेंद्र राम के पास चले गए तथा पूरे पंचायत में सिर्फ योगेंद्र राम द्वारा ही पूरे पंचायत के उपभोक्ताओं को जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत राशन किरासन का वितरण किया जाता है। ग्रामीणों का कहना है कि उनके समझ में नहीं आ रहा है कि किसी प्रशासनिक मजबूरी में अथवा डीलर योगेंद्र राम के प्रशासनिक, पुलिसिया पकड़ एवं धनबल, बाहुबल संपन्न होने के कारण जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत चारों राशन की किरासन की दुकानों का संचालन अकेले योगेंद्र राम को दे दिया गया है और उसके द्वारा अकेले ही सारे कोटों का संचालन किया जा रहा है।
ग्रामीणों का कहना है कि उक्त परिस्थितियों का नाजायज फायदा उठा कर ही उक्त डीलर योगेंद्र राम द्वारा जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत दुकान के संचालन एवं खाद्यान्न वितरण में बड़े पैमाने पर धांधली की जा रही है। उपभोक्ता को प्रति यूनिट 5 किलो की जगह 4 किलो अनाज दिया जा रहा है और घर घटतौली करते हुए वजन से 1 किलो कम अनाज दिया जा रहा है। ग्रामीणों ने अपने आवेदन में कहा है कि उक्त तथ्यों के संबंध में शिकायत करने पर कोटेदार योगेंद्र राम द्वारा दुर्व्यवहार करते हुए यह कहा जाता है कि “हम डीएम,सीएम,एसपी थानाध्यक्ष या सारे नेताओं एवं अधिकारियों को मैनेज करके रखते हैं। तुम्हें जो उखाड़ना है, उखाड़ लो।” ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि अगर किसी के द्वारा शिकायत की बात कही जाती है तो डीलर एवं उसके कुकृत्यों को शह देने वालों के द्वारा धमकी दी जाती है कि “ज्यादा दिमाग लगाओगे तो तुम लोगों को बर्बाद कर दिया जाएगा और तुम लोगों पर एससी/ एसटी एक्ट में केस करवा कर अंदर करवा दिया जाएगा।”
ग्रामीणों का कहना है कि ऐसी परिस्थिति में वे कोटेदार के किसी भी कृत्य का विरोध नहीं कर पाते हैं। ग्रामीणों द्वारा जिलाधिकारी महोदय, सिवान को आवेदन देकर तथ्यों की जांच की मांग की गई है और कोटेदार के खिलाफ कार्रवाई की माँग की गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here